Home / antarvasana / सहेली के बॉयफ्रेंड से भोसड़ा चुदवाया Antarvasna | Hindi Sex Stories

सहेली के बॉयफ्रेंड से भोसड़ा चुदवाया Antarvasna | Hindi Sex Stories

… : कोमल … , में बहुत सालों से सेक्सी कहानियों की बहुत चाहने वाली हूँ और में डॉट कॉम पर बहुत समय से सेक्सी कहानियाँ पढ़ती आ रही हूँ। मुझे कहानियाँ पड़ना बहुत अच्छा लगता है, लेकिन मैंने कभी भी अपनी खुद की कोई कहानी नहीं लिखी तो इसलिए एक दिन मैंने सोचा कि क्यों ना में भी अपनी सच्ची कहानी लिखकर आप तक पहुंचा दूँ। वैसे मेरी सेक्स लाइफ की तीन सच्ची घटनाए है जो अलग अलग लोगों से है और आज में उसमे से एक सच्ची कहानी आप लोगों को आज सुनाती हूँ और में उम्मीद करती हूँ कि यह आप लोगों को जरुर पसंद आएगी और अब में आप लोगों को ज्यादा बोर ना करते हुए अपना परिचय करवा देती हूँ। मेरा नाम कोमल है और मेरी उम्र 26 साल है और मेरे फिगर का आकार 34-30-35 है। में दिखने में गोरी और बहुत सेक्सी हूँ। में अभी एक अच्छे से कॉलेज से अपनी बीए की पढ़ाई कर रही हूँ और में लुधियाना की रहने वाली हूँ और में अब तक कुंवारी हूँ। उस समय मुझे अपनी पढ़ाई के सिलसिले में पूरे एक महीने की ट्रैनिंग के लिए चंडीगढ़ जाना पड़ा तो इसलिए मैंने एक महीने के लिए अपने साथ में पढ़ने वाली लड़कियों के साथ उनके कमरे पर रहने का निर्णय ले लिया। वहां पर मेरे अलावा चार लड़कियाँ और भी रहती थी और वो सभी सब बहुत हॉट और सेक्सी थी, लेकिन उसमें से एक लड़की का नाम सानिया था, वो सबसे ज्यादा हॉट थी और उसका वो छोटा कद, गोरा रंग, बड़ी बड़ी आखें और सेक्सी बूब्स, लेकिन उन सबसे अच्छी थी उसकी वो मटकती हुई सेक्सी गांड, जिसके पीछे हर कोई उसका दीवाना था और कोई भी उसको अपना बनाना चाहता था, लेकिन उसका पहले से ही एक बॉयफ्रेंड था जिसका नाम अक्षय था। फिर वो भी दिखने में अक्षय कुमार से कम नहीं था और बहुत हॉट, हट्टा कट्टा बदन, गोरा रंग, एकदम ठीक लम्बाई और वो सुंदर भी था। सानिया के साथ रहते रहते उससे मेरी बहुत अच्छी दोस्ती हो गई थी और उसके बाद हम दोनों एक दूसरे से अपनी सभी बातें करने लगे थे और कुछ भी नहीं छुपाते थे। तब एक दिन उसने मुझे अपने बॉयफ्रेंड के बारे में बता दिया और सबसे पहले उसने मुझे अपने बॉयफ्रेंड की एक फोटो दिखाई, जिसको देखकर मेरा तो मुहं खुला का खुला ही रह गया, क्योंकि वो दिखने में इतना हॉट लड़का था कि उसको पहली बार देखते ही मेरा तो उस पर दिल आ गया था। में उसके साथ अपने मिलने के सपने देखने लगी थी और उसके बाद उसने मुझे बताया कि उन दोनों ने करीब चार या पांच बार सेक्स भी किया है और फिर उसने मुझे अपनी सेक्स की कहानी सुनाई। जिसको सुनकर तो मेरी हालत बहुत ही खराब हो गई थी और कुछ देर बाद मैंने महसूस किया कि मेरी पेंटी भी अब पूरी गीली हो चुकी थी और मेरी प्यासी चूत में एक अजीब सी हलचल होने लगी थी और उसने मुझे बताया कैसे उसका बॉयफ्रेंड उसको चोदता है और वो बहुत देर तक थकता भी नहीं है, वो बहुत देर तक लगातार चुदाई के मज़े देता है और उसके बाद उसने मुझसे कहा कि में किसी दिन उससे मिलवाने लेकर चलूंगी, तो मैंने झट से हाँ कर दिया और में मन ही मन बहुत खुश थी, क्योंकि में उसको बिना देखे उसकी तरफ आकर्षित थी और अब मुझे उसको एक बार जरुर देखना था। फिर उसके दूसरे दिन हम तीन लड़कियों ने उससे मिलने का विचार बनाया और जब हम उससे मिले तो मैंने उसको अपने सामने देखा और देखते ही मेरी चूत गीली हो गई और मेरे तन मन में आग लगने लगी थी। में उसके साथ अपनी चुदाई के सपने देखने लगी और वैसे मैंने इससे पहले भी एक बार किसी दूसरे लड़के के साथ सेक्स किया था और वो भी मेरा बहुत अच्छा सेक्स अनुभव था। अब वो मुझे घूर घूरकर देख रहा था और मैंने उसको मेरे बूब्स को घूरते हुए देखा। वो मेरी तरफ पूरी तरह से आकर्षित हो चुका था और तब मैंने उसकी तरफ थोड़ा सा मुस्कुरा दिया, जिसकी वजह से वो भी समझ गया था कि मेरी भी उसमे रूचि है। तभी सानिया उठकर वॉशरूम में चली गयी और अक्षय ने झट से सही मौका देखकर तुरंत मुझसे मेरा फोन नंबर माँग लिया और मैंने भी उसको अपना फोन नंबर दे दिया। फिर उसके बाद हम सभी ने साथ में बैठकर कॉफी पी और कुछ देर बातें हंसी मजाक करने के बाद हम सभी वापस आ गये।फिर उसकी रात को मेरे फोन पर अक्षय का एक मेसेज आ गया और उसके बाद रात को करीब तीन घंटे तक हमने वाट्सप पर चेटिंग के मज़े लिए और उसके बाद फिर हम दोनों तीन दिन तक लगातार चेटिंग करते रहे। इस बीच हम दोनों एक दूसरे से बहुत खुलकर बातें हंसी मजाक करने लगे थे और फिर चोथे दिन उसने मुझसे पूछा कि मैंने क्या कभी सेक्स किया है? में तो उसकी यह बात सुनकर थोड़ा सा डर गई और मैंने उससे कह दिया कि नहीं, तो मेरा जवाब सुनने के बाद उसने दोबारा सेक्स चेटिंग करना शुरू कर दिया था और तभी उसने मुझसे अचानक से पूछ लिया कि क्या में उसके साथ सेक्स करना चाहती हूँ? सच पूछो तो में उसके मुहं से यह बात सुनकर उस समय बहुत डर गई और इसलिए मैंने ना कहकर अपनी तरफ से उससे चेटिंग करना बंद कर दिया था और दूसरे दिन सुबह जब मैंने अपना फोन देखा तो उसमे उसका एक मेसेज आया हुआ था और जिसमें लिखा था कि प्लीज तुम मुझे माफ़ कर दो मैंने गलती में तुमसे वो सब पूछ लिया था।फिर मैंने अपनी तरफ से एक मेसेज उसको लिखकर भेज दिया कि कोई बात नहीं है और वैसे मुझे तुम्हारी उस बात का बिल्कुल भी बुरा नहीं लगा था और फिर उसी रात को उसका मेरे पास दूसरा मेसेज आ गया, जिसमें लिखा था कि क्यों फिर तुमने क्या सोचा? सच पूछो तो मेरा दिल तो उसके साथ वो सब करने का बहुत था, जिसके लिए वो बार बार मुझसे पूछ रहा था, लेकिन में ना जाने क्यों डर भी रही थी और फिर मैंने थोड़ी सी हिम्मत करके उससे पूछा कि हम सेक्स कहाँ पर करेंगे? किसी ने हमें देख लिया और हम पकड़े गये तो क्या होगा? तब उसने मुझे समझाया कि वो ऐसा कुछ भी नहीं होने देगा, क्योंकि उसके पास एक बहुत अच्छा मौका है और परसों उसके सभी घरवाले कहीं बाहर जा रहे है और उनके चले जाने के बाद करीब दो दिनों तक घर पर उसके अलावा कोई भी नहीं होगा और तब तुम अपनी सहेलियों से कोई भी अच्छा सा बहाना बनाकर दो दिन के लिए मेरे घर पर आ जाना।उसके बाद हम दोनों घर पर एकदम अकेले रहेंगे और बहुत मस्ती करेंगे। मैंने उसकी पूरी बात को सुनकर थोड़ा सा सोचकर उससे कहा कि क्यों ना साथ में रहकर मज़े लिए जाए और मैंने उससे हाँ कह दिया उसके बाद हमने पूरा प्रोग्राम बना लिया, मैंने अपनी कुछ सहेलियों से झूठ कहकर में वहां से कुछ दूरी तक चली गई और उसके बाद वो मुझे अपनी कार में लेने आ गया और में उसकी कार में उसके साथ बैठकर उसके घर पर चली गई। फिर मैंने जाते समय ध्यान से देखा कि उसका घर एक पॉश एरिया में था और उसका घर आकार में भी बहुत बड़ा था, जिसमें 4-5 बड़े आकार के कमरे थे और एक बड़ा सा ड्रॉयग रूम और भी बहुत कुछ था। फिर मेरे बैठने के कुछ देर बाद उसने मुझे पीने के लिए जूस लाकर दे दिया और वो खुद भी मेरे पास आकर बैठ गया और में उसको पीने लगी, लेकिन सच पूछो तो में अब मन ही मन डर भी रही थी, लेकिन उसके साथ वो सब करने के लिए मन ही मन उत्सुक भी बहुत थी। फिर मैंने उस समय नीले रंग की टाइट जींस पहनी थी और काले रंग का बिना बांह का टॉप और उसके नीचे भी काली कलर की जालीदार वाली ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी। वो उन कपड़ो में कुछ ज्यादा ही सेक्स लग रही थी और इसलिए वो मुझे पूरे रास्ते घूरता हुआ देख रहा था और उसकी नजर मेरे बदन पर बार बार पड़ रही थी। ये कहानी आप डॉट कॉम पर पड़ रहे है।फिर कुछ देर इधर उधर की बातें करने के बाद उसने अचानक से मेरी जांघ पर अपना एक हाथ रखते हुए मुझसे बोला कि जानू हम दोनों आज से पूरे दो दिनों के लिए आज़ाद है और हम कोई भी फोन नहीं करेंगे, क्योंकि हमारे बीच किसी भी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए, बस प्यार और ज्यादा से ज्यादा प्यार और वो जैसे ही मेरी गर्दन पर किस करने लगा, तो मैंने उसे रोक दिया और फिर मैंने वॉशरूम जाने के लिए उससे पूछा और उसने मुझे इशारा करके वॉशरूम बता दिया और मैंने अपने साथ लाया हुआ बेग लिया और में उठकर वॉशरूम में चली गई। में अपने साथ एक छोटे आकार का गाउन लेकर आई थी मैंने जल्दी से वॉशरूम के अंदर जाकर अपनी जीन्स, टॉप, ब्रा, पेंटी सबको उतार दिया और फिर अपनी चूत को मैंने पानी से साफ किया और उसके बाद मैंने बिना ब्रा, पेंटी के वो गाउन पहना जो सिर्फ़ मेरी चूत को ढक कर रहा था और ज्यादा बड़ा गला होने की वजह से मेरी सुंदर उभरी हुई गोरी छाती भी दिख रही थी। मैंने अपने बाल खोल दिए और फिर मैंने खुद को कांच के सामने खड़ा होकर देखा। सच पूछो तो में बहुत सेक्सी लग रही थी और फिर जब में वॉशरूम से बाहर आई तो सामने बैठकर मेरा इंतजार कर रहा अक्षय मुझे अपनी फटी हुई चकित नजरों से देखता ही रह गया और उसका मुहं खुला का खुला ही रह गया और वो मेरे पास आकर मुझसे बोला कि मुझे पहले पता नहीं था कि तुम इतनी हॉट हो?तभी उसने मुझसे इतना कहकर मेरे पास आकर तुरंत अपने होंठ मेरे होंठो पर रखे और वो मुझे लिप किस करने लगा था और मैंने भी उसका पूरा साथ दिया हमने करीब पांच मिनट तक स्मूच किया और उसके बाद वो मेरी गर्दन पर किस करने लगा, जिसकी वजह से में बहुत गरम हो गई। तभी मैंने उसे रोक दिया और उससे बोला कि हम सब कुछ यहीं पर करेंगे तो बेडरूम में क्या करेंगे? तो वो मेरी बात का मतलब समझ गया और वो मुझे अपनी बाहों में उठाकर अपने बेडरूम में ले गया और फिर उसने मुझे बेड पर लेटा दिया। फिर जैसे ही वो मेरे ऊपर आया तो मैंने उसको धीरे से धक्का देकर में खुद उसके ऊपर आ गई और फिर मैंने उसकी शर्ट पेंट को उतार दिया और उसके निप्पल को सक किया और उसकी छाती पर किस किया। फिर उसके बाद मैंने नीचे आकर अंडरवियर के ऊपर से उसके लंड को छुआ जिसकी वजह से वो तो एकदम तड़प उठा और उसके बाद मैंने उसके लंड को किस किया और अंडरवियर को चूमा। फिर उसके बाद मैंने उसकी अंडरवियर को उतार दिया, उसका क्या मस्त लंड था? जैसा मुझे मेरी सहेली सानिया ने बताया था कि वो तो उससे भी कहीं ज़्यादा लंबा सुंदर मज़बूत था और वो आकार में कम से भी कम 6 इंच का तो था। अब में उसको देखकर बहुत खुश थी और अब मैंने नीचे से लेकर ऊपर तक उसके लंड को चाटा और उसके आंड को सक किया और उसके दोनों आंड को अपने मुहं में पूरे अंदर ले लिए। फिर लंड के टोपे को अपनी जीभ से चाटा और फिर पूरा लंड मुहं में ले लिया और बहुत जमकर चूसा, जिसकी वजह से अक्षय के मुहं से आहहह्ह्ह्ह उफफ्फ्फ्फ़ की आवाज निकल रही थी। अब में उसके सामने बेड से नीचे उतारकर खड़ी हो गई और वो उठा और बेड पर खड़ा हो गया।मैंने फिर से उसका लंड अपने मुहं में ले लिया और चूसने लगी, तो वो अब ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर मेरे बाल पकड़कर मेरा मुहं चोद रहा था और वो मुझसे कहने लगा हाँ चूस और चूस, कोमल तू बहुत अच्छा लंड चूसती है तुझे लंड चूसने का अच्छा अनुभव है, वो सानिया रंडी तो मेरा लंड ऐसे चूसती ही नहीं, हाँ और मज़ा दे कोमल, तुझे में एक नंबर की रंडी बनाऊंगा। उसके मुहं से यह बात सुनकर मेरे तो होश उड़ गये, लेकिन फिर मैंने मन ही मन सोचा कि वो शायद मजा ले रहा है इसलिए जोश में यह सब बोल रहा है और मेरी चूत भी तो अब तक बहुत गरम हो चुकी थी। फिर वो बेड से नीचे उतरा और उसने अचानक से एक झटके मेरी ड्रेस की डोरी को पकड़कर खोल दिया, जिसकी वजह से मेरा गाउन नीचे ज़मीन पर आ गया और में अब उसके सामने पूरी नंगी थी। अब उसने सबसे पहले मेरी गर्दन पर अपना निशाना साधा और गर्दन के बाद नीचे आकर मेरे संतरो पर आकर उसने जमकर मेरे संतरो का रस पिया और मेरे निप्पल को दाँत से काटा और मेरा पूरा बूब्स अपने मुहं में ले लिया वो जब मेरे बूब्स को चूस रहा था तो उसके मुहं से पच पच की आवाज़ आ रही थी और में भी जोश में आकर उसका सर पकड़कर अपने बूब्स पर दबा रही थी। फिर कुछ देर बूब्स को चूसने के बाद उसने धीरे से मुझे बेड पर धक्का देकर गिरा दिया और अब उसने मेरे पूरे बदन पर चूमना चाटना शुरू किया सबसे पहले गर्दन पर, बूब्स पर पेट पर कमर पर और फिर उसके बाद वो मेरी जांघों और पैरों पर चूमने लगा था। फिर उसने अपनी एक ऊँगली को मेरी प्यासी चूत में डाल दिया और अब वो अपनी ऊँगली को धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा, जिसकी वजह से मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और में समझ चुकी थी कि अब मेरी चुदाई होने वाली है अब वो कुछ देर बाद अपनी ऊँगली को बहुत ज़ोर से अंदर बाहर करने लगा था और साथ साथ वो मेरे बूब्स को भी दबा रहा था, जिसकी वजह से में पूरी तरह से जोश में आ चुकी थी और मुझसे अब बिल्कुल भी रहा नहीं जा रहा था और फिर में उससे बोल रही थी प्लीज़ अक्षय चोद दो मुझे उफ्फ्फ्फ्फ आह्ह्ह्हह्ह् आईईईई माँ में मर गई प्लीज मुझे तुम्हारी यह ऊँगली नहीं तुम्हारा वो मोटा तगड़ा लंड चाहिए प्लीज मुझे वो दे दो अब ना तरसाओ आह्ह्ह्ह। इसके बाद अक्षय के मोटे लंड ने मुझे दो दिन तक खूब चोदा और मैंने भी खूब मस्ती में चुदवाकर अपनी चूत का भोसड़ा बनवा लिया था। जब चूत एक बार अच्छी तरह से चुद जाती है फिर उसके बाद तो चूत चुदवाने का अलग ही मजा होता है और यही हाल मेरा भी है। में अपनी फटी हुई चूत के साथ बहुत खुश हूँ और अक्षय का लंड भी मुझे समय समय पर मिलता रहता है ।।धन्यवाद …